कह रहा है आपका हर शख़्स दीवाना हमें

Lyricist: Hasrat Jaipuri
Singer: Hussain Brothers

नूर-ए-अनवर से अँधेरे को मिटाया आपने
और क़िस्मत का सितारा जगमगाया आपने।
ख़ुशबू-ए-अफ़ज़ल ज़माना हमको कहता है मग़र
आज हम जो कुछ भी हैं हमको बनाया आपने।


कह रहा है आपका हर शख़्स दीवाना हमें
आप ही के नाम से दुनिया ने पहचाना हमें।

आपके दम से ही क़ायम है निज़ाम-ए-ज़िन्दग़ी
एक पल के वास्ते भी छोड़ न जाना हमें।

दोस्तों का प्यार, हसरत और फिर उसका करम
अहल-ए-फ़न अहल-ए-नज़र हर बज़्म ने जाना हमें।


नूर = Luminescence, Luster
अनवर = Light
अफ़ज़ल = Prime
निज़ाम = Arrangement, Establishment, Order, Organisation
अहल = One who is, Resident, Member
बज़्म = Gathering

One Reply to “कह रहा है आपका हर शख़्स दीवाना हमें”

  1. Hello,

    you have some very good collections, and thanks for posting this ghazals.

    I am a fan of Hussain Brothers, and here i have seen some ghazals that i have not heard before.
    can you tell in which album is this ghazal available?
    thanks.

    -ghazal_listner

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *