सता-सता के हमें

Lyrics: Wafa Roomani
Singer: Mehdi Hasan

सता-सता के हमें अश्कबार करती है
तुम्हारी याद बहुत बेक़रार करती है।

वो दिन जो साथ गुज़ारे थे प्यार में हमने
तलाश उनको नज़र बार-बार करती है।

ग़िला नहीं जो नसीबों ने कर दिया है जुदा
तेरी जुदाई भी अब हमको प्यार करती है।

कनारे बैठ के जिसके किए थे कौल-ओ-क़रार
नदी वो अब भी तेरा इंतज़ार करती है।

4 Replies to “सता-सता के हमें”

  1. teri judai bhi ab humko pyar karti hai!
    I think this is the most important line in the ghazal.
    but what do you think it means?
    does it mean that i love the feeling of seperation, something like in madhushala where it goes >
    Pyar nahi pa jaane mein hai, pane ke armano mein
    Or what? tell me what you think please.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *